घृतकुमारी / एलोवेरा एक बहुउपयोगी वनौषधि – Aloe Vera Benefits

घृतकुमारी / एलोवेरा एक बहुउपयोगी वनौषधि – Aloe Vera Benefits

दोस्तों

आज हम आपको घृत कुमारी ग्वार पता , एलोवेरा या कोरफड भी कहते है, के उपयोगो से अवगत करायेंगे !
घृत कुमारी एक बहुउपयोगी औषधी पौधा है जिनके उपयोगो का वर्णन हमारे प्राचीन संस्कृत ग्रंथो में किया गया है !

घृत कुमारी एक बौना पौधा है जिसके हरे रसीला और कांटेदार पत्ते उसकी पहचान है, और ये किसे भी जगह जैसे घर / गार्डन में आसानी से लगाया जा सकता है !

Aloe Vera Pots

घृत कुमारी / एलो वेरा के उपयोग

  • घृत कुमारी यह एक एंटी एजिंग, एंटी इंफ्लेमेटरी पौधा है जिसका गुदा लगाने से त्वचा मुलायम और चमकदार हो जाती है ! तथा इसे लगाने से हलके चोट के निशान, स्ट्रेच मार्क्स और रूखी त्वचा जैसे प्रोब्लेम्स दूर हो जाते है !
  • घृत कुमारी के जूसी पत्ते आँखों पर रखने से आँखों की जलन दूर हो जाती है और आँखों को ठंडक मिलती है ! हर रोज एलोवेरा के जूसी पत्ते आँखों पर रखने से आँखों का चश्मा तक उतर सकता है !
  • घृत कुमारी का गुदा / जूस बालो पर लगाने से और उसकी जूस का सेवन करने से डैंड्रफ की समस्या ख़तम होती है और असमय बाल झड़ना कम होता है !
  • एलो वेरा की जूस हर रोज सेवन करने से रोगो से लड़ने की शरीर की शक्ति कई गुना बढ़ जाती है !
  • एलो वेरा / घृत कुमार जूस की नित्य सेवन से आर्थराइटीस बीमारी में होने वाला दर्द कम हो जाता है !
  • मुहांसो से बचना है तो एलो वेरा जूस किसी वरदान से कम नहीं ! नित्य दो बार घृत कुमारी का जूस लगाने से त्वचा की वसामय ग्रंथिया अधिक सक्रिय होती है और मुहांसो से छुटकारा मिलता है !
  • शुगर की बीमारी को अगर जड़ से मिटाना है तो १० ग्राम घृतकुमारी और १० ग्राम करेला का जूस या २० ग्राम आवला और १० ग्राम घृत कुमारी का जूस नित्य सेवन करे !
  • एलो वेरा का जूस रोज पीने से पाचन तंत्र मजबूत होता है और पाचन सम्बन्धी समस्या नष्ट हो जाती है !
  • नित्य प्रति दिन एलो वेरा जूस के सेवन से कोलेस्ट्रॉल काम होता है और तेजी से वजन घटाने में मदद मिलती है !
  • सर्दी खांसी जैसी घरेलू बिमारियों में घृत कुमारी / एलो वेरा जूस की सेवन से राहत मिलती है, तथा एलो वेरा कैंसर जैसी घातक बीमारियों के इलाज में भी कारगर साबित हुआ है!
  • घृत कुमारी / एलो वेरा जेल को आफ्टर शेव लोशन कि तरह भी इस्तेमाल कर सकते है जो ना की दाढ़ी की घाव को जल्दी भरता है बल्कि त्वचा और दाढ़ी की बालों को मुलायम भी बनता है !

एलो वेरा / घृत कुमारी इस्तेमाल करने से पहले

  • घृत कुमारी स्वभाव से गर्म है इसे लिए इसका उपयोग स्त्रियों द्वारा गर्भ एव मासिक धर्म की दौरान ना करे
  • शुगर एव रक्त चाप की मरीजों को घृत कुमारी कि उपयोग जरूरी वैद्यकीय सलाह की बाद ही करना चाहिए !
  • घृत कुमारी पाचन सम्बन्धी समस्या मिटता है मगर कभी कभी ये पेट में मरोड़ और हैजे की समस्या भी पैदा कर सकता है ! ऐसे मौके पर वैद्यकीय सलाह जरूरी है !

तो दोस्तों इस तरह हमने आप को घृत कुमारी / एलो वेरा की उपयोग और उनके इस्तेमाल सम्बन्धी जानकारी से अवगत कराया आशा करते है की इस लेख आप को पसंद आइये और इसमें बताया गए स्वास्थ सम्बन्धी उपायो से आप को लाभ हो !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *